रामजस कॉलेज में हुई हिंसा को लेकर एबीवीपी के खिलाफ मुहिम छेड़ने वाली शहीद की बेटी गुरमेहर कौर को रेप की धमकी देने के विरोध में प्रदर्शन हुआ, जिसमें बड़ी संख्या में लड़कियों ने हिस्सा लिया। बंटी त्रिपाठी ने इसी विरोध को अपने तरीके से अभिव्यक्त किया है।

ये बोलती लड़कियाँ,
ये प्रोटेस्ट करती लड़कियाँ,
ये आँख में आँख डाल के बात करती लड़कियाँ,

अपना प्रेम, नफरत खुल के इज़हार करती लड़कियाँ,
ये तुम्हारी धमकियों से भी ना डरती लड़कियाँ,
ये हक़ के लिए लड़ती लड़कियाँ,
ये हर मुद्दे पे लड़ती लड़कियाँ, ये पढ़ती लड़कियाँ…

कितनी बड़ी ख़तरा है ना तुम्हारे बने बनाये सिस्टम के लिए
वो सिस्टम जहाँ उन्हें हर वक़्त ये एहसास कराते हो
कि कुछ भी हो जाओ आखिर तुम एक लड़की ही हो,
कितना भी सफल हो जाओ चलना तुम्हे इसी सिस्टम के हिसाब से है।

तुम्हे डर लग रहा है ना इस सिस्टम के टूटने का,
हाँ तो ये डर महसूस करते रहना,

और आज जिनको तुमने हमेशा या तो देवी बोला या पैरो की धूल माना
वो अब इंसान बन के तुम्हारे सिस्टम की धज्जियाँ उड़ाने आ गयी है।

  • बंटी त्रिपाठी