लड़कियाँ गौरैया होती है

लड़कियाँ गौरैया होती है फुदकती हैं एक डाल से दुसरी डाल तक मुस्कुराती हैं अपने टेढ़े मेढ़े दांतो से पकड़ लेती हैं अपनी चोंच में कुछ टुकड़े अनाज के वो…Continue Reading →

मुझको यौम-ए-मुहब्बत जैसे किसी दिन की याद नहीं

आज वैलेंटाइन डे है। मोहब्बत के इज़हार का दिन। अपना मुल्क अफ़ग़ानिस्तान छोड़ा तो उम्र काफ़ी कम थी। यौम-ए-मुहब्बत जैसे किसी दिन की याद नहीं आती। बीच के दिनों मे…Continue Reading →